ओलंपिक का छठा दिन भारतीय महिला खिलाड़ियों के नाम रहा।

छठे दिन के पहले मुकाबले में पीवी सिंधु ने शानदार प्रदर्शन करते हुए ‘नॉकआउट’ चरण में जगह बना ली है । ‘ग्रुप–जे’ के अपने दूसरे मुकाबले में सिंधु ने हॉङ्गकॉङ्ग की च्युंग एनगान यी को आसानी से 21-9, 21–16 से हराया । अब वह प्री–क्वार्टर फाइनल में ‘ग्रुप–आई’ में शीर्ष पर रहने वाली डेनमार्क की दुनिया की 12वें नंबर की खिलाड़ी ब्लीच फेल्ट से भिड़ेंगी ।

जहाँ एक ओर पीवी सिंधु प्री-क्वार्टर फाइनल में पहुँच गई हैं, वहीं दूसरी ओर दुनिया की नंबर एक तीरंदाज़ दीपिका कुमारी भी मेडल जीतने के करीब पहुँच गई हैं । उन्होंने बेहतर प्रदर्शन करते हुए अंतिम 8 में जगह बना ली है। दीपिका ने अंतिम 16 के मुकाबले में अमेरिका की जेनिफर फर्नांडिस को 6-4 से हराया ।

भारतीय महिला बॉक्सर पूजा रानी ने भी शानदार शुरुआत के साथ क्वार्टर फाइनल में जगह बना ली । 75 किलो मध्यम भार-वर्ग के ‘राउंड–16’ मुकाबले में उन्होंने अल्जीरिया की इचरक चाइब को 5-0 से करारी मात दी ।

क्वार्टर फाइनल में अब उनका मुकाबला 31 जुलाई को दुनिया की तीसरी वरीयता प्राप्त चीनी खिलाड़ी ली कियान से होगा। पूजा पहले भी दो बार एशियन चैम्पियनशिप में गोल्ड जीतने के सफर में इस चीनी मुक्केबाज को हरा चुकी हैं । अगर यह फिर एक बार दोहरा लिया जाता है तो पूजा पदक की दौड़ में शामिल हो जाएँगी ।

वहीं तीरंजादज़ी के पुरुष एकल प्रतियोगिता में भारत को एक बार फिर निराशा ही हाथ लगी है । तरुणदीप राय और ओलंपिक में बेहतर प्रदर्शन कर रहे प्रवीण जाधव ‘राउंड-16’ का मुकाबला हारकर ओलंपिक खेल से बाहर हो गए हैं । अमरीकी खिलाड़ी बैडी एलिसन के सामने प्रवीण अपने अंतिम मुकाबले में बेहद कमजोर दिखाई दिए और 6-0 से यह मुकाबला बुरी तरह हार गए ।

महिला हॉकी में भी ब्रिटेन के हाथों भारत को 1-4 से हार का सामना करना पड़ा । टीम का प्रदर्शन यहाँ भी निराशाजनक ही रहा । हॉकी स्पर्धा के ‘पूल-ए’ में यह महिला टीम की लगातार तीसरी हार है ।

नौकायन में भी भारत के हाथ हार ही आई । कमभार युगल पुरुष प्रतिस्पर्धा में अर्जुन लाल जाट और अरविंद सिंह की जोड़ी सेमीफाइनल में हारकर बाहर हो गई है । भारतीय जोड़ी इस स्पर्धा में छठे और आखिरी स्थान पर रही । हालाँकि सातवें दिन भारतीय दल से अभी भी उम्मीदें बरकरा है ।