ओलंपिक खेलों में पाँचवें दिन भारतीय दल का प्रदर्शन मिलाजुला ही रहा ।

हॉकी में भारतीय टीम का प्रदर्शन पाँचवें दिन बेहतर रहा । ऑस्ट्रेलिया से पिछले मैच में मिली हार से उबरते हुए भारत ने खेल में शानदार वापसी की और स्पेन को 3-0 से हरा दिया । इसके साथ ही भारत ने अपने अब तक के खेले तीन मुकाबलों में से दो में जीत दर्ज़ कर ली । भारतीय टीम अब 6 अंकों के साथ इस समय पुल ए की प्वाइंट्स टेबल में दूसरे स्थान पर मौजूद है । इस जीत के साथ भारतीय टीम नॉकआउट दौर में भी प्रवेश पा गई और उससे भविष्य में पदक की उम्मीद भी बढ़ गई है । भारतीय टीम ने इस मैच में शुरू से ही अपना दबदबा बनाए रखा और स्पेन की टीम को गोल करने का कोई मौका नहीं दिया । भारत की ओर से रुपिंदर पाल सिंह ने दो गोल किये जबकि सिमरनजीत ने एक गोल किया।

मुक्केबाज़ी के मुकाबले में लवलीन बोरगोहेन् ने भी पदक की उम्मीद को बरकरार रखते हुए बेहतर प्रदर्शन किया ।  23 साल की लवलीना ने जर्मनी की नदिन अपेज को हराकर क्वार्टरफाइनल में प्रवेश कर लिया है। इस जीत के साथ ही 64-69 की कैटेगरी में लवलीना क्वार्टरफाइनल में पहुँचने में कामयाब रहीं ।  उनका मुकाबला अब 30 जुलाई को पूर्व विश्व चैम्पियन चेन नीन् से होगा । ऐसे में अगर लवलीना यह मुकाबला जीत पाती हैं तो वे पदक की दौड़ में शामिल हो जाएँगी ।

सात्विक साइराज रैंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की जोड़ी ने बैडमिंटन पुरुष युगल ग्रुप-ए के अपने तीसरे मैच में बेन लेन और सीन वेंडी की ब्रिटेन की जोड़ी को हराया  । लेकिन इसके बावजूद यह जोड़ी नॉकआउट में जगह बनाने में नाकाम रही ।

सात्विक और चिराग दुनिया की 10वीं नंबर की जोड़ी ने लेन और वेंडी की दुनिया की 18वीं नंबर की जोड़ी को 44 मिनट चले मुकाबले में 21-1, 21-19 से हराकर ग्रुप में दूसरी जीत दर्ज़ की ।

चीनी ताइपो की यैग ली और ची लिन वैंग, दुनिया की तीसरे नंबर की जोड़ी, ने हालाँकि मार्कस फर्नालड़ी गिडी योन और केविन संजय सुकामुल्जो की इंडोनेशिया की दुनिया की नंबर की एक जोड़ी को 21-18,15-2, 21-17 से हरा दिया, जिसके चलते सात्विक और चिराग टूर्नामेंट से बाहर हो गए ।

निशानेबाज़ी में मनु भाकर-सौरभ चौधरी और अभिषेक वर्मा–यशस्विनी देसवाल 10 मीटर एयर पिस्टल संयुक्त टीम मेडल राउंड के लिए पास करने में नाकाम रहे हैं । दिव्यांश पवार– एलावेनिल वलारिवन और अंजुम मौदगिल–दीपक कुमार 10 मीटर एयर राइफल संयुक्त टीम स्पर्धा के फाइनल के लिए क्वालीफाई करने में असफल रहे ।

टेबल टेनिस के मुकाबले में चीन के ओलंपिक चैम्पियन मा लोंग से शरत कमल 1-4 से हार के बाद तीसरे दौर में बाहर हो गए ।

पाँचवे दिन के अंतिम मुकाबले में भारत के विष्णु सरवनन पर्सनडिंगी लेसर इवेंट-6 की रेस में 72 वें स्थान पर रहे । ये उनका अबतक का सबसे बेहतरीन प्रदर्शन है । इसी के साथ वे  रैंकिंग में 22वें स्थान पर रहे । हालाँकि पाँचवें दिन भी भारत के हाथ कोई पदक नहीं लग सका ।ओलंपिक  के पदक तालिका में फ़िलहाल भारत को एक पदक से ही संतोष करना पड़ रहा है । लेकिन छठवें दिन अभी भी भारतीय दल से पदक की उम्मीदें कायम हैं ।