यात्रा और रास्ते

यात्रा और रास्ते

दुनिया एक कोने से दूसरे कोने तक है वह सीमित नहीं है | मानव होकर हम सबने अपनी दुनिया सीमित बना दी है | जबकि वह बड़ी और खूबसूरत होनी थी | अजित भी इस सुंदर दुनिया को देखने की चाहत लिए निकल पड़ा है उसे देखने | उसमें जिद्द से ज़्यादा चाहत है | तो आइए जानते हैं छोटे से अजित की बड़ी सी कहानी

एक लड़की की आज़ादी अनेक लड़कियों की आज़ादी..

एक लड़की की आज़ादी अनेक लड़कियों की आज़ादी..

शांत मन अरमानों का जखीरा होता है, जिसमें अनगिनत ख्वाब, एहसास और दिल की परतों में बसी ख्वाहिशें हिलोरे मारती हैं। कुछ किनारों पर आकर साहिल से टकराकर वापस अपने वतन लौट जाती हैं, तो कुछ साहिल को चीरकर नया वतन तलाशती हैं। अनन्या का मन भी कुछ ऐसा ही अल्हड़ और बेबाक-सा बनने को […]